Stimulating Young Hearts........

पिता की गोद में




पिता की गोद में,

कितने सुकून में,

है ये नन्हा फ़रिश्ता !

अद्भुत प्रभा नयनों में,

नटखट मुस्कान अधरों में,

कुदरत का करिश्मा,

है ये नन्हा फ़रिश्ता !!

© Himani Vashishta

You can also motivate me to write by sending your pictures, for more information kindly open the following link....


[आप भी कोई तस्वीर भेज कर मुझे लिखने के लिए प्रेरित कर सकते हैं.. अधिक जानकारी के लिए निम्न लिंक खोलें -]





0 comments:

Post a comment